India News Politics

Complete Lockdown In India: भारत में 3 मई से 20 मई तक लग गया कंप्लीट लॉकडाउन? जानें वायरल हो रहे इन दावों की सच्चाई

Loading...

भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लागतार इजाफा हो रहा है और आज देश में पहली बार एक दिन में 4 लाख से अधिक नए केस मिले हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर एक बार फिर लॉकडाउन शब्द चर्चा में आ गया है। कोरोना संकट के बीच सोशल मीडिया पर ई पोस्ट वायरल हो रहे हैं, जिनमें दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार 3 मई से 20 मई तक कंप्लीट लॉकडाउन लगा दिया है। तो चलिए जानते हैं कि आखिर लॉकडाउन को लेकर वायरल हो रहे इन दावों की क्या सच्चाई है।

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि 3 मई से 20 मई तक देश में कंप्लीट लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। वायरल पोस्ट में टीवी चैनल (अनाम टीवी चैनल) का एक फ्रेम दिखाया गया है, जिसमें पीएम मोदी की फोटो के साथ सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि लॉकडाउन की नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है। साथ ही ब्रेकिंग के तौर पर इसमें दिखाया गया है कि 3 मई से 20 मई के तक संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है। इसमें पीएम मोदी के बयान के हवाले से दावा किया जा रहा है कि इस फैसले से देश के सभी राज्यों ने संपूर्ण लॉकडाउन को लेकर सहमति जताई है।

मगर जब इस वायरल पोस्ट की पड़ताल की गई तो यह पूरी तरह से फेक निकला। पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने इस दावे को फर्जी बताया है और कहा है कि सरकार की ओर से ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है। इसके अलावा, यह काफी पहले पीएम मोदी स्पष्ट कर चुके हैं कि वह लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने राज्यों से भी कहा था कि लॉकडाउन का इस्तेमाल अंतिम विकल्प के रूप में ही करें।

पीएम मोदी ने लॉकडाउन को लेकर क्या कहा है ?

20 अप्रैल को देश के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने इस बात की ओर साफ इशारा कर दिया कि सरकार कहीं से लॉकडाउन नहीं लगाना चाहती है। पीएम मोदी ने कहा था कि वर्तमान स्थिति में हमें देश को लॉकडाउन से बचाना है। उन्होंने कहा था कि मैं राज्यों से भी अनुरोध करूंगा कि वो लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें। लॉकडाउन से बचने की भरपूर कोशिश करनी है।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment