देश में वैसे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्सर ही चर्चा में रहते हैं। लेकिन हाल ही में एक बार फिर प्रधानमंत्री सुर्खियों में आ गए थे। वो एक तस्वीर के वायरल होने पर चर्चा में आए थे जिसमें वो इसरो प्रमुख के सिवन को गले लगाकर हौसला दे रहे थे। इस तस्वीर के वायरल होते ही सोशल मीडिया में खलबली मच गई थी। मीडिया जगत भी इससे अछूता नहीं था। जाने-माने एंकरों जैसे रोहित सरदाना, रुबिका लियाकत से लेकर अंजना ओम कश्यप और सुधीर चौधरी तक ने मोदी को सराहा था। हालांकि रवीश कुमार अब तक चुप हैं।

Image result for रवीश कुमार खामोश
मोदी ने ISRO चीफ की हिम्मत बढ़ाई

Image result for मोदी ने इसरो चीफ की हिम्मत बढ़ाई
इसरो प्रमुख के सिवन को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की गई। उन्होंने चंद्रयान की लैंडिंग देखने के लिए शनिवार को खुद बेंगलुरु जाने का फैसला किया था। इसके बाद, उन्हें रात के 3 बजे खबर मिली कि लैंडिंग विफल हो गई है। इस वजह से, प्रधानमंत्री को घृणित ISRO प्रमुख ने गले लगा लिया और उन्हें प्रोत्साहन के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। घटना ने सोशल मीडिया से लेकर मीडिया तक हलचल मचा दी।

बड़े एंकरों ने बधाई दी लेकिन रवीश कुमार चुप रहे


इसरो प्रमुख को गले लगाने पर पीएम मोदी को बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। एंकर रोहित सरदाना ने उस फोटो की तारीफ में कहा कि इसरो के अध्यक्ष और पीएम के शब्द बिना शब्दों के संवाद करते हैं। वहीं, एंकर रुबिका लियाकत ने मोदी को बड़ा भाई बताया। वहीं, अंजना ओम कश्यप ने भी मोदी की तारीफ में कहा कि इसरो प्रमुख को पीएम का समर्थन मिला है। हालांकि, यह सबसे आश्चर्यजनक है कि जाने-माने एंकर रवीश कुमार ने इस घटना पर पूरी तरह से चुप्पी साध ली है। हर मुद्दे पर अपनी राय रखने वाले एंकर रवीश ने अपने ब्लॉग में चंद्रयान -2 की मोदी को गले लगाने की घटना पर एक शब्द नहीं कहा है।

दोस्तों, आपको क्या लगता है रवीश कुमार मोदी की तारीफ में कुछ क्यों नहीं कहते हैं, टिप्पणी में बताएं और खबर साझा करें।

न्यूज सोर्स- abpnews.abplive.in, twitter.com