Image result for चन्द्रयान से इसरो का संपर्क टूटते ही बोला पाकिस्तान
पीएम नरेंद्र मोदी सरकार ने कई बड़े फैसले लिए जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त करना उन फैसलों में से एक है। भारत के उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, फारूक अब्दुल्ला और कांग्रेस नेता राहुल गांधी जैसे दिग्गजों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सहित भारतीय जनता पार्टी सरकार के फैसले का विरोध किया। भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा शुरू किए गए मिशन चंद्रयान के बारे में अब एक बुरी खबर आई है।

Image result for चन्द्रयान से इसरो का संपर्क टूटते ही बोला पाकिस्तान

Image result for लैंडर विक्रम का संपर्क इसरो से टूट गया
दरअसल जब चंद्रयान के उतरने का समय आया तो लैंडरो विक्रम का इसरो से संपर्क अचानक टूट गया। जिसके बाद चंद्रयान के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी। अब पाकिस्तान भी इस मामले में चुप नहीं है। एक तरफ पीएम मोदी इसरो टीम की पीठ थपथपा रहे थे, दूसरी तरफ पाकिस्तानी मंत्री ने बेहद बेतुका बयान दिया।

पाकिस्तान का बड़ा बयान

Image result for पाकिस्तान इमरान khan
जिस समय इसरो का चन्द्रयान से संपर्क टूटा, पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने बड़ा ही बेतुका बयान देते हुए कहा कि,”पीएम मोदी संचार उपग्रह पर ऐसे भाषण दे रहे थे जैसे वो नेता के बजाय एस्ट्रोनॉट हों। लोकसभा को उनसे यह पूछना चाहिए कि एक गरीब देश के 900 करोड़ रुपए क्यों बर्बाद कर दिए।” इतना ही नहीं, एक और बयान में फवाद चौधरी ने कहा कि,”जो काम नहीं आता, पंगा नहीं लेते ना डियर इंडिया।” वहीं दूसरी ओर, पीएम नरेंद्र मोदी ने इसरो की प्रशंसा की और कहा कि हमें अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है।

Image result for चन्द्रयान से इसरो का संपर्क टूटते ही बोला पाकिस्तान

सोर्स- IndiaTV.com