Politics

लोगों ने बातें की और योगी ने कर दिया मजदूरों के लिए शानदार काम, रंग लाई सीएम योगी की पहल, उद्यमियों ने यूपी सरकार से मांगे 5 लाख श्रमिक और कामगार

Loading...

प्रवासी मजदूरों को काम मुहैया कराने की सीएम योगी की पहल कारगर होती दिख रही है। सरकार ने 16 लाख प्रवासी मजदूरों की स्किल मैपिंग पूरी तरह से की थी, कि कई उद्यमी और औद्योगिक समूह अपने रोजगार के लिए आगे आने लगे हैं। इन कर्मचारियों ने सरकार के कौशल मानचित्रण डेटा बैंक से 5 लाख श्रमिकों और श्रमिकों के लिए कहा है। ये यूपी सरकार और प्रवासी मजदूरों के लिए उत्साहजनक संकेत हैं।

yogi adityanath

योगी सरकार ने राज्य में प्रवासी मजदूरों के कौशल मानचित्रण के बाद राज्य में औद्योगिक संस्थानों का सर्वेक्षण और मानचित्रण शुरू किया। इसका उद्देश्य औद्योगिक संस्थानों में रोजगार के अवसर तलाशना था। सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि प्रत्येक औद्योगिक इकाई में मैन पॉवर मजबूत किया जाना चाहिए और कम से कम 1 से 10 श्रमिकों के लिए रोजगार का खाका तैयार किया जाना चाहिए। टीम -11 की बैठक में इसके लिए एक योजना भी तैयार की जा रही है।

सरकार हर यूनिट से कुशल और गैर-कुशल मैन पावर की मांग कर रही है। इसके लिए सरकारी औद्योगिक संस्थानों को भी मदद करने के निर्देश दिए गए हैं, इसलिए ये संस्थान तेजी से काम करना शुरू कर सकते हैं। उन्होंने निर्देश दिया है कि आपूर्ति श्रृंखला स्पष्ट और अन्य सरकारी सुविधाएं प्रदान करने में भी ध्यान दिया जाना चाहिए।

योगी सरकार औद्योगिक इकाइयों में श्रमिकों और श्रमिकों के लिए प्रशिक्षुओं और प्रशिक्षण की व्यवस्था भी कर रही है। सरकार इस अवधि के दौरान औद्योगिक समूहों के श्रमिकों को प्रशिक्षण भत्ता प्रदान करने की भी योजना बना रही है।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment