India News

राजस्थान: परीक्षा देने जा रही छात्रा का अपहरण कर दुष्कर्म कर वीडियो बनाकर 2 साल तक ब्लैकमेल कर दुष्कर्म, बाद में सोशल मीडिया पर वायरल

Written by Yuvraj vyas
Loading...

राजस्थान के अलवर जिले से एक दिल दहला देने वाली शर्मनाक घटना सामने आई है. अभी जिले के चर्चित थानागाजी गैंगरेप को लोग भूल नहीं पाए कि एक और घटना सामने आ गई. ताजा मामले में 22 वर्षीय पीड़िता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि करीब दो साल पहले तीन-चार लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर उसका वीडियो बना लिया.

पीड़िता ने अपनी शिकायत में बताया कि 25 जून को उसे गौतम सैनी ने एक वीडियो भेजा और फिर आकर उससे मिलने के लिए कहा. लड़की नहीं मिली तो दो दिन बाद 27 जून को आरोपी ने उसका अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दिया। युवती ने 28 जून को उसके खिलाफ मालाखेड़ा थाने में सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। आरोपी ने लड़की का अश्लील वीडियो 15 जून को ही सोशल मीडिया पर डाल दिया था। वीडियो वायरल होने के बाद उनके पास अलग-अलग नंबर से कॉल आने लगे।

पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म और वीडियो वायरल करने का मामला दर्ज किया है। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल भी कराया। घटना के संबंध में गुरुवार को पीड़िता के 164 बयान भी दर्ज किए गए। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अब तक इस संबंध में दो लोगों को हिरासत में लिया है।

परीक्षा देने जा रहा छात्र

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि घटना उसके साथ उस वक्त हुई जब वह गोरिदेव कॉलेज में परीक्षा देने जा रही थी. रास्ते में हलदीना निवासी विकास उर्फ ​​विक्की चौधरी, भूरू सिंह जाट ने उसका अपहरण कर लिया. ये दोनों लोग उसे चिकनी रोड के पास एमआईए इलाके में ले गए। पीड़िता ने बताया कि वहां का चौकीदार भी उससे मिला था. इसके बाद उन्होंने उसे कुछ पिलाया और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

पुलिस ने कई धाराओं में किया केस

पीड़िता ने बताया कि इस संबंध में विकास और भूरू के खिलाफ 2019 में मामला दर्ज किया गया था लेकिन पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई. उन्होंने कहा कि दोनों युवकों ने वीडियो वायरल करने की धमकी देकर बार-बार दुष्कर्म किया। पुलिस उपाधीक्षक ग्रामीण अमित सिंह ने बताया कि पीड़िता की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है. आरोपी के खिलाफ धारा 366, धारा 376D, 384, 506 IPC 67A 67B के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas