India Politics

मानसून 2021: इस साल भी सामान्य रहेगा मॉनसून, जानें मौसम का हाल

Loading...

राजधानी दिल्ली व एनसीआर क्षेत्र में इस बार सितंबर के महीने में ज्यादा बेहतर बरसात होने का अनुमान है। हालांकि, जुलाई और अगस्त में भी सामान्य बारिश होने की संभावना है। मौसम संबंधी पूर्वानुमान जताने वाली संस्था स्काईमेट के मुताबिक, इस बार देश भर में दक्षिण-पश्चिम मानसून सामान्य रहने की संभावना है।

संस्था ने मंगलवार को देश में 75 फीसदी तक वर्षा का योगदान देने वाले मानसून को लेकर पूर्वानुमान व्यक्त किए। संस्था का अनुमान है कि इस बार मानसून सामान्य रहेगा। जून से सितंबर महीने के दौरान वर्षा का दीर्घावधि औसत 103 प्रतिशत तक रहेगा। इस बार सामान्य मानसून रहने की 60 फीसदी संभावना है। जबकि, सामान्य से ज्यादा बारिश की 15 फीसदी संभावना है।

Skymet का पूर्वानुमान
बारिश        संभावना
सामान्य        60%
सामान्य से कम    15%
सामान्य से ज्यादा    15%
अत्यधिक बारिश    10%

मॉनसून सीजन में कब कितनी बारिश
– जून में औसत का 106% बारिश संभव
– जून में सामान्य बारिश की संभावना 70%
– जुलाई में औसत का 97% बारिश संभव
– जुलाई में सामान्य बारिश की संभावना 75%
– अगस्त में औसत का 99% बारिश का अनुमान
– सितंबर में 116% बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के मुताबि‍क दिल्ली में 3 दिन तेज गर्मी पड़ने के आसार हैं. अधिकतम तापमान 40 डिग्री तक पहुंच सकता है. वहीं मध्य प्रदेश में कोरोना के साथ ही मौसम भी अपने तेवर बदल रहा है. यहां अप्रैल के तेज गर्मी वाले महीने में पिछले 24 घंटे से तेज हवाएं और बारिश देखने को मिल रही है. मौसम विभाग ने प्रदेश में बारिश की संभावना जताई है. राजस्थान (Rajasthan News) में गर्मी दो दिन तक और सता सकती है.

हिमाचल में मौसम विभाग (weather department) के पूर्वानुमान अनुसार सोमवार को लाहुल-स्पीति (Lahul Spiti) और मनाली की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात (Snowfall) हुआ है. वहीं प्रदेश के कई क्षेत्रों में तेज आंधी तूफान भी आया.

मौसम विभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से लगातार नम हवाएं आ रही हैं. इसके चलते कई स्थनों पर बारिश तो कई जगह धूप देखने को मिल रही है. अनुमान है कि मौसम में ये परिवर्तन 14 अप्रैल तक बरकरार रहेगा. फिर मौसम में एक बार फिर तेज गर्मी महसूस की जाएगी.

Loading...

About the author

Pradhyumna vyas

Leave a Comment