Featured

पुलिस स्टेशन पहुंचीं रिया, 1 दिन पहले ड्रग्स कनेक्शन में मिली जमानत

Written by Yuvraj vyas

सुशांत सिंह राजपूत केस के ड्रग्स एंगल में एनसीबी द्वारा गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती को एक महीने बाद बुधवार को जेल से जमानत पर रिहा हो गए। लंबे समय बाद प्रधान ने एक रात अपने घर में बिताई। गुरुवार को रिया चक्रवर्ती सांताक्रूज पुलिस स्टेशन के बाहर नजर आईं जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं।

बता दें कि 7 अक्टूबर को बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिया की बेल अपील मंजूर करते हुए उन्हें जमानत पर छोड़ दिया है। कोर्ट ने उन्हें एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी है और साथ ही ये शर्त भी रखी है कि वह अपना पासपोर्ट जमा करेंगी।

साथ ही जब इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा तब प्रिंस चक्रवर्ती उपलब्ध बेगी। एक तरफ जहां रिया चक्रवर्ती अब खुली हवा में हांस ले रहे हैं वहीं दूसरी तरफ प्रधान के भाई शोविक चक्रवर्ती की जमानत अर्जी खारिज्ज कर दी गई है।

मालूम हो कि बुधवार को बॉम्बे हाई कोर्ट ने कुल 5 लोगों की जमानत याचिका पर सुनवाई की थी और हर एक मामले को अलग-अलग तरीके से देखते हुए प्रधान, दीपेश सावंत और सैमुअल मिरांडा को जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

सेशन कोर्ट के आदेश के अनुसार 9 सितंबर से ही जेल में हैं। पहले कोर्ट की रिहाई के आदेशों से कोर्ट चली गई और उसके बाद ये सूची बायकुला जेल चली गई। फाइनल डॉक्यूमेंटेशन और बाकी पेपर वर्क के बाद हाई कोर्ट द्वारा दी गई जमानत की शर्तों को मानते हुए प्रिंस के डायरीखत के बाद उन्हें जेल से छोड़ दिया गया।

मुंबई पुलिस ने ये आदेश जारी किया था कि मीडिया जुहू स्थित रिया के घर लौटते वक्त उनके वाहन का पीछा नहीं करेगा। यही कारण है कि गुरुवार को कहीं भी शासक की तस्वीरें सामने नहीं आईं।

प्रधान चक्रवर्ती पर सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स की खरीद फरोख्त करने का आरोप है। प्रधान और उनके भाई की कई ड्रग्स पेडलर्स संग चैट भी सामने आई थी। हालांकि प्रधान ने शुरू में इसमें लिप्त होने की बात से साफ इनकार किया था लेकिन प्रधान के भाई शोविक ने जब चैट से जुड़ी हकीकत बताई तो रिया के साथ आगे की पूछताछ में सारा भेद खुल गया।

चैट सामने आने के बाद प्रधान चक्रवर्ती ने NCB से पूछताछ में इस बात को कबूला था कि उन्होंने भी ड्रग्स का सेवन किया है। हालांकि, उन सुशांत के मिलने से पहले ये छोड़ चुके थे। जिसके बाद NCB ने उनपर 27 ए के तहत केस दर्ज किया था। नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रॉपिक एजस्टन्स एक्ट, 1985 (एनडीपीएस एक्ट) मादक दवाओं से संबंधित एक कठोर कानून है।

बुधवार को सुनाए गए फैसले में तीन लोगों को बेल मिली है, जिनमें प्रधान चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, दीपेश सावंत शामिल हैं। तीनों पर ही एक ही अहसास लगाई गई हैं। जबकि बासित परिहार, शोविक चक्रवर्ती को जमानत नहीं मिल पाया है।

शोविक को बेल मिलना इसलिए भी मुश्किल है क्योंकि उनपर कई संगीन आरोप लगाए गए हैं। हालांकि, एनसीबी की ओर से कहा गया है कि वह बेल मिलने के खिलाफ अपील करेगी।

प्रिंस को बेल मिलने पर कई बॉलीवुड सेलेब्स ने भी खुशी जाहिर की। तापसी पन्नू, अनुभव सिन्हा सहित अन्य स्टार्स ने ट्वीट कर कहा कि उन्हें न्याय मिलेगा।

About the author

Yuvraj vyas