Featured

इन पांच क्षेत्रों में नौकरियों की बहुत अधिक संभावनाएं

Written by Yuvraj vyas

कौशल शिक्षा के छात्रों को एक आशाजनक भविष्य के लिए तैयार करने में मदद कर सकती है। कौशल शिक्षा के माध्यम से, छात्रों को शैक्षणिक ज्ञान के साथ-साथ व्यावहारिक कौशल सीखने का मौका मिल सकता है। इस दौरान उन्हें प्रशिक्षणक्षुता कार्यक्रमों में भाग लेने का मौका मिलता है, जहां वे औद्योगिक अनुभव प्राप्त कर सकते हैं। आज हम आपको पांच ऐसे कौशल पाठ्यक्रमों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां भविष्य में नौकरी की संभावनाएं बहुत अधिक हैं। इलेक्ट्रिकल

सीखा जाने वाला कौशल: बीवोक कार्यक्रम का उद्देश्य आम तौर पर छात्रों को तकनीकी जानकारी और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के व्यावहारिक कौशल के साथ सुसज्जित करना है। इस कौशल को सीखने के दौरान छात्र विभिन्न उद्योगों के सामान्य से लेकर वैश्विक मानकों का ज्ञान लेते हैं। छात्रों को उच्च स्तर पर व्यावहारिक शिक्षण पाठ्यक्रम से गुजरने का मौका मिलता है, जिससे वे सभी तरह के इलेक्ट्रिक सर्किट और उपकरणों में समस्या निवारण को सामान्य से लेकर दैनिक कंसेप्ट और कौशल के साथ सीखते हैं।

अवसर: बीवोक करने के बाद छात्र कार्यालय आईटनेस इलेक्ट्रिशियन, इलेक्ट्रिक्ल इंस्टालेशन इलेक्ट्रिशियन, लीटर सर्विस फिटर और सुपरवाइजर जैसी नौकरी कर सकता है या फिर एमवोक बुकिंग में शामिल होकर उच्चतर उच्च स्तरीय क्रेडिट के लिए विकल्प चुन सकते हैं।

पॉलीमैकेनिक सीखा जाने वाला कौशल: पॉलीमैकेनिक में अनुकूल लोग प्रोडक्शन उपकरण और उपकरणों के लिए पाटर््स इंस्टॉल कर रहे हैं। इस पेशे में लॉजिक और अटेशन कंट्रोल की जरूरत होती है, साथ ही, संबंधित बुनियादी विद्युत और सर्किट वाले काम में कौशल की आवश्यकता होती है।) विनिर्माण कौशल में सचित्र प्रशिक्षण और एक भरापूरे विनिर्माण वातावरण की आवश्यकता होती है। मशीनों से लगाव रखने वाले छात्रों को पॉलीमैकेनिक में बीवोक को चुनना चाहिए। अवसर: पॉलीमैकेनिक डिग्री में बीवॉक डिग्रीधारी कई तरह के विनिर्माण कौशल में प्रशिक्षण होते हैं संबंधित उद्योग में आसानी से काम करने में सक्षम है। औद्योगिक और विनिर्माण सयंत्रों की एक बड़ी श्रृंखला में उन्हें काम के अनुभव और संबंधित उद्योग की जरूरतों के आधार पर तेजिशियन, प्रैक्टिशनर और सुपरवाइजर के रूप में नियुक्त किया जा सकता है।

कारपेंटरी सीखा जाने वाला कौशल: कारपेंटरी में बीवॉक डिग्री के तहत काउंटर बनाने, इंटीरियर वूडवर्क और फर्नीचर के निर्माण आदि कामों के लिए तैयार करता है। वे विश्व स्तर के फर्नीचर और चारा बनाने में सक्षम हो जाते हैं। अवसर: जीवनशैली में परिवर्तन के साथ-साथ आधुनिक फर्निशिंग की मांग राष्ट्रीय और वैश्विक स्तर पर बढ़ रही है। बहुत ही नहीं डिग्रीधारियों के लिए सुपरवाइजर और लकड़ी उद्योग में प्रबंधक के रूप में पर्याप्त अवसर हैं। ई-कॉमर्स की दुनिया में भी इनोवेटिव फर्नीचर के लिए एक बड़ा बाजार बनाया गया है, ऐसे में छात्र खुद अपना स्टार्टअप भी शुरू कर सकते हैं।

नेवोट्री सीखने जाने वाले कौशल: नेवोटी अर्थात मोटर वाहन कौशल में बीवोक के अंतर्गत छात्रों को अटके के सभी प्रमुख तत्व सिखाए जाते हैं जैसे जलडमरूमध्य, रसायन, इलेक्ट्रॉनिक, सॉफ्टवेयर और सेफ्टी कंप्यूटर ताकि इनका उपयोग मोटरसाइकिलों के निर्माण व संचालन, मोटर वाहन और ट्रक में हो उनकी सबंधित उपप्रणालियों के निर्माण व डिजाइन में किया जा सकता है। अवसर: किसी भवन निर्माण वर्कशॉप में काम करें या अपना खुद का ऑटो वर्कशॉप खोलना मोटर वाहन में बीवोक डिग्री लेने वालों के लिए दो सबसे आकर्षक विकल्प हैं। इसके अलावा वाहन बनाने वाली बड़ी कंपनियों में नौकरी के अवसर भी उपलब्ध होंगे।

प्रशिक्षण हार्डवेयर और आइटमी सीखा जाने वाला कौशल: छात्रों को सूचना भंडारण, आईएस और संचार के क्षेत्र में प्रशिक्षण मिलता है। आइटम और बुकिंग कौशल में बीवोक के तहत कंप्यूटर का इस्तेमाल कर सकते हैं। कोचिंग कंस्ट्रक्शन, नेटवर्क का उपयोग और प्रबंधन, जिसमें हार्डवेयर (केबल बिछाने, हब, पुल, स्विच, रूटर आदि) भी शामिल है।

अवसर: डिजिटलीकरण, सूचना प्रौद्योगिकी, स्मार्ट शहरों और औद्योगिक क्षेत्रों में वृद्धि की ओर देखते हुए आज इन क्षेत्रों में कौशल बहुत महत्वाकांक्षी है। छात्र नेटवर्क विशेषज्ञ या नेटवर्क सेवा तकियान, नेटवर्क प्रबंधन, नेटवर्क इंजीनियर, नेटवर्क विश्लेषक / प्रोग्रामर, नेटवर्क प्रबंधक और नेटवर्क सोल्यूशन आर्किटेक्ट बन कर प्रबंधन या क्षेत्रीय आवश्यकता के अनुसार नेटवर्क समाधान बनाने के लिए काम करने जैसे अवसरों को प्राप्त कर सकता है। – अचिंतय चैधरी (कुलपति, भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी, जयपुर)

About the author

Yuvraj vyas