Featured

SBI का एक फैसला, 44 करोड़ ग्राहकों पर पड़ेगा ये असर

Written by Yuvraj vyas

अगर आप देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के ग्राहक हैं तो ये खबर आपके लिए है. दरअसल, एसबीआई ने एक अहम फैसला लिया है. इसका असर बैंक के करीब 44 करोड़ ग्राहकों पर पड़ना तय है.

एसबीआई ने एटीएम पर 10,000 रुपये और उससे अधिक के लेनदेन के लिए ओटीपी आधारित नकद निकासी सुविधा का दायरा बढ़ा दिया है. बैंक ने बताया कि 18 सितंबर से ये सुविधा 24 घंटे उपलब्ध होगी.

बैंक ने इस साल जनवरी में अपने एटीएम पर 10,000 रुपये और इससे अधिक के लेनदेन के लिए ओटीपी आधारित निकासी सुविधा रात आठ बजे से सुबह आठ बजे के बीच शुरू की थी. फिलहाल, इसी अवधि में सुविधा का फायदा उठाया जा सकता है.

एसबीआई ग्राहकों को 10,000 रुपये और इससे अधिक की राशि की निकासी के लिए अपने एटीएम कार्ड पिन के साथ ही रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी को दाखिल करना होगा. ऐसा उन्हें प्रत्येक लेनदेन के लिए करना होगा.

एसबीआई के प्रबंध निदेशक (खुदरा और डिजिटल बैंकिंग) सीएस सेट्टी ने कहा कि 24 घंटे ओटीपी आधारित एटीएम निकासी सुविधा से एसबीआई ग्राहकों को सुरक्षित और जोखिम रहित निकासी का अनुभव होगा. इस सुविधा से एसबीआई डेबिट कार्डधारकों को धोखेबाजी से बचने में मदद मिलेगी.

इसके साथ ही एसबीआई ने अपने सभी ग्राहकों से मोबाइल नंबरों को रजिस्टर्ड करने या अपडेट करने का आग्रह किया है. कहने का मतलब ये है कि अगर आप सुरक्षित लेनदेन चाहते हैं तो रजिस्ट्रेशन करा लें.

बैंक ने कहा कि ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा केवल एसबीआई के एटीएम में उपलब्ध है. दूसरे एटीएम में यह सुविधा विकसित नहीं की गई है.

About the author

Yuvraj vyas