entertainment News

माँ अपना घर कपड़े से चलाती थीं, आज हिंदी सिनेमा की सबसे दिग्गज डायरेक्टर में से एक हैं, संजय लीला भंसाली कि टॉप 5 फ़िल्में

Loading...

आज बॉलीवुड के फेमस फिल्म मेकर संजय लीला भंसाली का जन्मदिन है। भंसाली का जन्म 24 फरवरी 1964 को मुंबई में हुआ था। आज भंसासी 58 साल के हो गए हैं। संजय एक मल्टीटास्कर हैं, वह फिल्म डायरेक्टर होने के अलावा प्रोड्यूसर, म्यूजिक डायरेक्टर और स्क्रीन राइटर भी हैं। भंसाली के जन्मदिन पर आज हम आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी तमाम बातें बताने जा रहे हैं। साथ ही उनके फेमस फिल्मों की भी चर्चा करेंगे।

सभी लोग जानना चाहते हैं कि भंसाली ने अपने नाम के साथ अपनी मां का नाम जोड़ा हुआ है। दरअसल उनकी मां का नाम लीला है। वहीं भंसाली ने अपनी मां को श्रद्धांजलि देने के लिए अपने नाम के साथ अपनी मां लीला का नाम जोड़ दिया। भंसाली बचपन से ही फिल्मों की दुनिया में नाम कमाना चाहते थे, इसलिए उन्होंने अपनी पढ़ाई पुणे के फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से पूरी की। इसके बाद उन्होंने एडिटिंग का कोर्स भी किया। एफटीआईआई से फिल्ममेकिंग का कोर्स करने के बाद संजय लीला भंसाली ने निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा के साथ काम करना शुरू किया।

24 फरवरी 1963 को एक गुजराती पर‍िवार में जन्में संजय लीला भंसाली, आज के समय के सबसे सफल निर्देशकों में गिने जाते हैं. हम दिल दे चुके सनम, देवदास, ब्लैक समेत कई सुपरहिट फिल्मों के लिए संजय लीला भंसाली का नाम बड़े अदब से लिया जाता है. लेक‍िन इस कामयाबी तक का उनका ये सफर आसान नहीं था.  संजय लीला भंसाली ने बचपन में घर की मुश्क‍िलें देखी हैं. उनकी मां लीला सिलाई कर घर का खर्च चलाती थीं. वैसे तो संजय ने कभी अपने पार‍िवार‍िक मसलों पर चर्चा नहीं की पर रिपोर्ट्स है कि उनका बचपन संघर्षों से भरा रहा. घर-पर‍िवार के लिए मां की इस मेहनत को देख संजय का लगाव मां से ज्यादा था. कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो संजय ने अपनी मां को ट्र‍िब्यूट देने के लिए अपने नाम के बीच में ‘लीला’ नाम जोड़ा है.
हम आपको इस मशहूर फिल्ममेकर की 5 ऐसी फिल्मों के बारे में बताते हैं जो इनके करियर में ‘मील का पत्थर’ साबित हुईं।
खामोशी
साल 1996 में आई ‘खामोशी’ फिल्म संजय लीला भंसाली की बतौर डायरेक्टर दूसरी फिल्म थी। इस फिल्म में सलमान खान, मनीषा कोइराला और नाना पाटेकर मुख्य भूमिका में थे। इस फिल्म के ‘बाहों के दरमियां’ गाने ने खूब सुर्खियां बटोरी थी। इसमें नाना पाटेकर और सीमा बिस्वास ने गूंगे-बहरे का किरदार निभाया था। इस फिल्म में संजय लीला भंसाली के डिरेक्शन की काफी तारीफ की गई थी।
देवदास
साल 2002 में आई फिल्म ‘देवदास’ ने बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई की। इस फिल्म में शाहरुख खान की एक्टिंग ने लोगों को इंप्रेस किया तो वहीं पारो और चंद्रमुखी का किरदार हमेशा के लिए यादगार बन गया। इस फिल्म के गानों ने काफी सुर्खियां बटोरी जिसमें ‘डोला रे डोला’ गाना काफी फेमस हुआ था।
ब्लैक
साल 2005 में संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘ब्लैक’ मील का पत्थर साबित हुई। इसमें रानी मुखर्जी और अमिताभ बच्चन के किरदार को लोग आज भी याद करते हैं। यहां तक की इस फिल्म को बेस्ट फिल्म के अवॉर्ड से भी नवाजा गया था।
बाजीराव मस्तानी
‘बाजीराव मस्तानी’ में दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह एक साथ नजर आए थे। इस फिल्म ने न केवल बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा दिया था बल्कि ताबड़तोड़ कमाई करके कई फिल्मों को पीछे छोड़ दिया था। यह फिल्म साल 2015 में रिलीज हुई थी।
पद्मावत
साल की शुरुआत में रिलीज हुई फिल्म ‘पद्मावत’ की धमक से बॉक्स ऑफिस हिल गया है। यह फिल्म 25 जनवरी को रिलीज हुई थी और 281.78 करोड़ की कमाई अब तक कर चुकी है। इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिका हैं। इसमें रणवीर और मलिक काफूर की एक्टिंग को लोगों ने काफी पसंद किया।

 

Loading...

About the author

Pradhyumna vyas

Leave a Comment