Politics

कर्नाटक उपचुनाव के रुझानों में BJP ने किया सूपड़ा साफ, कांग्रेस ने कबूली हार

Loading...

कर्नाटक की 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के रुझानों को देखते हुए कांग्रेस ने हार स्वीकार कर ली है। कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा, ‘जनता ने दलबदलुओं को स्वीकार कर लिया है।’

कर्नाटक उपचुनाव में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया। बीजेपी के उम्मीदवारों ने 15 से 12 सीटें जीतीं। इस जीत के साथ, भाजपा ने विधानसभा में बहुमत के निशान को पार कर लिया है। 222 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 117 विधायक हैं। कांग्रेस के पास 68 और जेडीएस के पास 34 सीटें हैं।

 

इन उपचुनावों के नतीजे बीएस येदियुरप्पा की भाजपा (भाजपा) सरकार के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि सत्तारूढ़ दल को 223 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए कम से कम 7 सीटों की जरूरत है।

जुलाई में कुल 17 कांग्रेस-जेडीएस विधायकों के इस्तीफे के कारण एचडी कुमारस्वामी की गठबंधन सरकार गिर गई। इसके बाद बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनी। तत्कालीन स्पीकर ने इन विधायकों को चुनाव लड़ने से अयोग्य ठहराया। हालांकि, नवंबर में सुप्रीम कोर्ट ने इन अयोग्य विधायकों को चुनाव लड़ने की अनुमति दे दी।

वैसे, 17 सीटों पर चुनाव होने थे जो विधायकों के इस्तीफे के कारण खाली हुए थे। लेकिन कोर्ट में दो सीटों का मामला होने के कारण फिलहाल 15 सीटों पर चुनाव हुए।

 

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि जीतने वाले 12 उम्मीदवारों में से 11 को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा। मैंने रानीबेन्नूर से जीतने वाले बीजेपी उम्मीदवार का वादा नहीं किया था। 11 मंत्री बनाने में कोई दिक्कत नहीं है। मैं अगले 3-4 दिनों में दिल्ली जाऊंगा और इसे अंतिम रूप दूंगा।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment