Featured

ATM पर फेल हुई ट्रांजेक्शन तो टेंशन ना लें, खुद RBI ने बताया किस तरह आपके पैसे मिलेंगे वापस!

एटीएम लेनदेन विफल होने पर 5 दिनों के भीतर बैंक ग्राहक के खाते में पैसा जमा करने के लिए जिम्मेदार होता है।

एटीएम ट्रांजेक्शन फेल होने की दिक्कत बहुत से लोगों को झेलनी पड़ी होगी, लेकिन ये दिक्कत तब और बढ़ जाती है जब आपके पैसे कट जाते हैं। रिजर्व बैंक ने कहा है कि समय से अगर बैंक आपके पैसे रिफंड नहीं करता है तो उसे मुआवजा भी चुकाना होगा।

एटीएम मशीन या कैश की कमी की समस्या के कारण एटीएम लेनदेन अक्सर विफल हो जाता है। लेकिन, समस्या तब पैदा होती है जब खाते से पैसे काट लिए जाते हैं और इसे वापस पाने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। इसके अलावा, अब इसके बारे में चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि बैंक अब एक निश्चित अवधि में आपके खाते में यह पैसा जमा करेगा। भारतीय रिजर्व बैंक ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

आरबीआई ने एक ट्वीट में कहा कि अगर एटीएम लेनदेन विफल हो जाता है और बैंक निर्धारित अवधि के भीतर आपके खाते में पैसा जमा नहीं करता है, तो बैंक को आपको प्रतिपूर्ति करनी होगी। भारतीय रिजर्व बैंक समय-समय पर लोगों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए इस तरह की जानकारी देता रहा है। भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट एटीएम से जुड़े कई सवालों के जवाब भी देती है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि बैंकों को असफल एटीएम लेनदेन को वापस करने की आवश्यकता है। इस तरह के किसी भी लेनदेन को जल्द से जल्द आपके बैंक को सूचित किया जाना चाहिए। एटीएम लेनदेन विफल होने पर 5 दिनों के भीतर बैंक ग्राहक के खाते में पैसा जमा करने के लिए जिम्मेदार होता है। अगर बैंक लेट होता है, तो उसे प्रति दिन 100 रुपये का मुआवजा देना होगा।

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment