Featured

ख़ुशखबरी : गरीब पुजारियों को मुफ्त मकान और मासिक भत्ता देगी सरकार

पश्चिम बंगाल सरकार (West Bengal Government) ने राज्य में 8,000 से अधिक हिंदू पुजारियों (Brahmin priests) के लिए 1,000 मासिक वित्तीय सहायता (monthly allowance) और मुफ्त आवास (Free House) की घोषणा की है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ये घोषणा की है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि कुछ समय पहले उन्होंने सनातन ब्राह्मण संप्रदाय को कोलाघाट में एक अकादमी तैयार करने के लिए जमीन दी थी. उन्होंने कहा कि इस संप्रदाय के कई पुजारी आर्थिक रूप से कमजोर हैं. इसलिए सरकार ने उन्हें महीने 1,000 रुपये का भत्ता प्रदान देने और राज्य सरकार की आवासीय योजना (Bangla Awas Yojna) के तहत मुफ्त मकान देकर के उनकी मदद करने का फैसला किया है.

इसके अलावा पश्चिम बंगाल सरकार (West Bengal Government) ने राज्य के हिंदी भाषी और आदिवासी लोगों को ध्यान में रखते हुए हिंदी अकादमी और दलित साहित्य अकादमी स्थापित करने का भी फैसला लिया है.

राज्य सरकार ने बिष्णुपुर संग्रहालय (Bishnupur Museum) में 3,000 पांडुलिपियों को डिजिटाइज करने का भी फैसला किया है. ये पांडुलिपियां विभिन्न प्राचीन जनजातियों की भाषाओं और संस्कृतियों के बारे में हैं.

ममता बनर्जी ने राज्य में हिंदी भाषी लोगों के लिए हिंदी सेल का गठन किया है. इस सेल का चेयरमैन पू्र्व केंद्रीय मंत्री दिनेश त्रिवेदी को बनाया गया है. अध्यक्ष रूप में इसमें पत्रकार विवेक गुप्ता को जोड़ा गया है.

उधर, राज्य के विपक्षी दलों ने ममता सरकार की घोषणाओं को चुनावी हथकंडा बताया है. विपक्षी दलों ने आरोप लगाया कि राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनावों में वोटरों को लुभाने के लिए इस तरह की घोषणाएं की जा रही हैं.

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment