Health

शुक्राणु को कम करती हैं रोज़ाना की ये 3 आदतें

Loading...

कई बार परिवार नियोजन बार-बार के प्रयासों के बाद भी परिणाम नहीं देता है। डॉक्टर की सलाह, दवाइयों और कई तरह की जाबत के बाद भी गर्भावस्था में समस्या होती है। वजह है जीवनशैली में बदलाव। आपकी कई दैनिक आदतें शुक्राणुओं की संख्या को कम कर रही हैं। खाने-पीने और उठने-बैठने में कई ऐसी छोटी-छोटी बातें हैं जो न केवल आपकी सेहत बिगाड़ रही हैं, बल्कि इसकी वजह से आपके पार्टनर को गर्भधारण करने में भी परेशानी हो रही है। धीरे-धीरे, यह आपके वैवाहिक जीवन को भी प्रभावित कर रहा है। अगर आप इस समस्या से जूझ रहे हैं या भविष्य में इससे बचना चाहते हैं, तो आज ही अपने जीवन से निम्नलिखित 6 आदतों को हटा दें। तो शायद आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि स्पर्म काउंट कैसे रोकें। स्पर्म काउंट कैसे बढ़ाएं या स्पर्म की गुणवत्ता कैसे सुधारे। तो हम आपको बताते हैं कि इसे कैसे समझें


1. कार्बोनेटेड पेय – यदि आप कार्बन डाइऑक्साइड से भरे पेय का अधिक सेवन कर रहे हैं तो आज ही इसे छोड़ दें। ये पेय आपके स्पर्म काउंट को कम कर रहे हैं। इतना ही नहीं बल्कि इसकी मात्रा भी बीयर से कम है। क्योंकि इन ड्रिंक्स में शुगर की मात्रा अधिक होती है, जो कम स्पर्म काउंट के काम में बाधा उत्पन्न करती है।

2. फोन को पैंट की जेब में रखें – लो स्पर्म काउंट एंड मोटिलिटी के कारण: ज्यादातर लोग अपने मोबाइल को केवल पैंट की जेब में रखते हैं। लेकिन ऐसा नहीं किया जाना चाहिए। क्योंकि आपके फोन से खतरनाक विकिरण शुक्राणु के प्रजनन को कम करता है। अध्ययन में दावा किया गया है कि फोन को पैंट की जेब में रखने से शुक्राणु को 9 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

Also Read  उंगलियां चटकाते है तो जान लीजिए यह बात, बंद कर देंगे आज से उंगलियां चटकाना

3. लैपटॉप को पैर पर रखकर काम करें – टाइम्स में प्रकाशित एक खबर के अनुसार, ‘अंडकोष, यानी अंडकोष शरीर के तापमान से लगभग दो डिग्री अधिक ठंडा होना चाहिए।’ मतलब अगर आप लैपटॉप को अपनी गोद में रखते हैं, तो इसकी गर्म हवा आपके शुक्राणु को मार सकती है। इसीलिए लैपटॉप को टेबल पर रखकर काम करें।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment