Featured khet kisan

शिवराज सिंह का बड़ा ऐलान ! सभी जातियों और समाज के लोगों को 16 सितंबर से एक रुपये किलो दिया जाएगा गेंहू

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा उपचुनाव (Assembly By Election) के लिए जोरआजमाइश तेज होने लगी है. प्रदेश की 27 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले चुनाव को लेकर बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) पूरा जोर लगा रही हैं. सत्ताधारी पार्टी बीजेपी ने वोट बटोरने के लिए उद्घाटनों, घोषणाओं और वादों का सिलसिला शुरू कर दिया है. शनिवार को जहां पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रदेश में गरीबों के लिए पौने दो लाख आवासों का उद्घाटन किया वहीं सीएम शिवराज सिंह ने सभी गरीबों को एक रुपये किलो में गेहूं देने की घोषणा की.

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ”किसी भी जाति या समाज के गरीब लोग, जिन्हें अभी तक एक रुपये किलो गेहूं नहीं मिलता था, 16 तारीख से एक रुपये किलो गेहूं देना शुरू कर दिया जाएगा. कोई गरीब भूखा नहीं सोएगा.”

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि देश के 116 जिलों में 5,000 किलोमीटर से ज्यादा ऑप्टिकल फाइबर बिछाया जा चुका है, जिससे 1,250 से ज्यादा ग्राम पंचायतों में करीब 15,000 वाईफाई हॉटस्पॉट और लगभग 19,000 ऑप्टिकल फाइबर कनेक्शन दिए गए हैं. प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत मध्य प्रदेश में 12,000 गांवों में निर्मित 1.75 लाख आवासों के लोकार्पण एवं हितग्राहियों के गृह प्रवेश संबंधी ऑनलाइन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘वर्ष 2019 से पहले बुनियादी सुविधाओं को पहुंचाने का किया गया. अब इन मूल सुविधाओं के साथ आधुनिक सुविधाओं से भी गांवों को मजबूत किया जा रहा है.”

कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश के सबसे बड़े गद्दार : ज्योतिरादित्य सिंधिया

मोदी ने कहा, ‘‘इसी 15 अगस्त को लालकिले से मैंने कहा था कि आने वाले 1,000 दिनों में देश के करीब छह लाख गांवों में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने का काम पूरा किया जाएगा.” मोदी ने कहा कि पहले देश की ढाई लाख पंचायतों तक ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया था. अब इसको पंचायत से आगे बढ़ाकर गांव-गांव तक पहुंचाने का संकल्प लिया गया है. इस कोरोना वायरस काल में भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना के तहत यह काम तेजी से किया गया.

उन्होंने कहा, ‘‘देश के 116 जिलों में 5,000 किलोमीटर से ज्यादा ऑप्टिकल फाइबर बिछाया जा चुका है, जिससे 1,250 से ज्यादा ग्राम पंचायतों में करीब 15,000 वाईफाई हॉटस्पॉट और लगभग 19,000 ऑप्टिकल फाइबर कनेक्शन दिए गए हैं.”

मोदी ने कहा कि यहां मध्य प्रदेश के भी चुने हुए जिलों में 1,300 किलोमीटर से ज्यादा ऑप्टिकल फाइबर बिछाया गया है. यह सारा काम कोरोना वायरस काल में ही हुआ है. इतने बड़े संकट के बीच हुआ है. जैसे गांव-गांव में ऑप्टिकल फाइबर पहुंचेगा तो इससे नेटवर्क की समस्या भी कम हो जाएगी.

उन्होंने कहा, ‘‘जब गांव में भी बेहतर और तेज इंटरनेट आएगा, जगह-जगह वाईफाई हॉटस्पॉट बनेंगे तो गांव के बच्चों को पढ़ाई और युवाओं को कमाई के बेहतर अवसर मिलेंगे. यानी गांव वाई-फाई हॉटस्पॉट से ही नहीं जुड़ेंगे, बल्कि आधुनिक गतिविधियों के व्यापार के भी हॉटस्पॉट बनेंगे.”

About the author

Yuvraj vyas