Politics

राहुल ने कोरोना से देश को बचाने के लिए सरकार को बताई रामबाण तरकीब, लोगों ने कहा पहली…

Loading...

दुनिया भर में कोरोना से 20 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं, दुनिया भर के 186 देश इसकी चपेट में हैं और कई देशों में कोरोना ने कहर मचाया हुआ है. भारत में इसके मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, कोरोना के भारत में अब तक 650 से ज्यादा मरीज मिले हैं और यह आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश भर को अगले 21 दिनों के लिए लॉकडाउन किया गया है. देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है गुरुवार को अब तक सबसे ज्यादा 4 मौत हुई हैं. जिसके साथ ही देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है. जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात में एक-एक मौत हुई है. जबकि बुधवार को तीन मौत हुई थी.

कोरोना से देश को बचाने के लिए राहुल जी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए अपना सुझाव दिया। इस सुझाव में उन्होंने अपनी रणनीति को दो हिस्सों में बांटते हुए कहा, “हमारा देश कोरोना वायरस से युद्ध लड़ रहा है। आज सवाल ये है कि हम ऐसा क्या करें के कम से कम जानें जाएँ? स्तिथि को नियंत्रण में करने के लिए सरकार की बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी है। मेरा मानना है कि हमारी रणनीति दो हिस्सों में बँटी हो।”

 

राहुल जी की रणनीति का पहला भाग ‘कोरोना वायरस से जमकर जूझना हैं’, जिसके अंतर्गत संक्रमण रोकने के लिए एकांत में रहने और बड़े पैमाने पर मरीज़ों की टेस्टिंग कराने तथा शहरी इलाक़ों में विशाल आपातकालीन अस्थाई हॉस्पिटल का तुरंत विस्तार कराने का सुझाव दिया गया है।

रणनीति का दूसरा भाग अर्थव्यव्स्था के लिए है, जिसके अंतर्गत दिहाड़ी मज़दूरों को फ़ौरन सहायता देने और सीधे उनके अकाउंट में कैश ट्रांसफ़र करने का सुझाव दिया गया है। इसके आलावा टैक्स छूट, मुफ्त राशन तथा गरीबों को आर्थिक सहायता देने की मांग की गई है।

Loading...

About the author

Yuvraj vyas