Featured

मोबाइल डेटा स्पीड में नेपाल, श्रीलंका और पाकिस्तान से पिछड़ा भारत: Ookla

डिजिटल इंडिया के दौर में भारत फ़िलहाल मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में पाकिस्तान और नेपाल से भी पीछे है. पिछले महीने के मुक़ाबले मोबाइल स्पीड में भारत कुछ स्थान नीचे आ गया है.

पीड टेस्ट फ़र्म Ookla के मुताबिक़ मोबाइल इंटरनेट स्पीड के ग्लोबल इंडेक्स में भारत में 131वें नंबर पर है. कंपनी ने सितंबर महीने का आँकड़ा जारी किया है.

Ookla के मुताबिक़ फिक्स्ड ब्रॉडबैंड स्पीड के मामले में भारत ग्लोबल इंडेक्स में 70वें नंबर पर है. मोबाइल स्पीड के मामले में दो पायदान नीचे आने के बावजूद फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में पिछले महीने के मुक़ाबले दो पायदान ऊपर गया है.

Ookla के मुताबिक़ भारत में ऐवरेज मोबाइल इंटरनेट की डाउनलोड स्पीड 12.07Mbps रही है, जबकि फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड की ऐवरेज डाउनलोड स्पीड 46.47% है.

ग़ौरतलब है कि मोबाइल इंटरनेट ग्लोबल स्पीड इंडेक्स में भारत इस वक़्त पाकिस्तान, श्रीलंका और नेपाल जैसे अपने पड़ोसी देशों से नीचे है. लेकिन फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड स्पीड में भारत पाकिस्तान से ऊपर है.

Ookla स्पीडटेस्ट ग्लोबल इंडेक्स के मुताबिक़ सितंबर 2020 में ग्लोबल ऐवरेज मोबाइल डाउनलोड स्पीड 32.6Mbps की रही है, जबकि भारत में ये 12.07 ही है.

138 देशों की स्पीड लिस्ट में भारत को 131वां स्थान मिला है. ग्लोबल मोबाइल ऐवरेज अपलोड स्पीड की बात करें तो ये 11.22Mpbs  है, जबकि भारत में ये 4.31Mbps ही है.

मोबाइल डाउनलोड स्पीड में कौन है नंबर-1?

Global Speed September 2020 की Ookla लिस्ट में नंबर-1 पर साउथ कोरिया है. यहां ऐवरेज डाउनलोड स्पीड 121 Mbps की है. दूसरे नंबर 113.35Mbps स्पीड के साथ भारत का ही पड़ोसी मुल्क चीन है.

तीसरे नंबर पर UAE है जहां 109.43 की ऐवरेज मोबाइल डाउलनोड स्पीड है. चौथे नंबर पर क़तर है, यहाँ ऐवरेज स्पीड 92.85Mbps है, जबकि पाँचवें नंबर पर 79.70Mpbs के साथ नीदरलैंड्स है.

फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड स्पीड में कौन से देश टॉप पर है?

फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड डाउनलोड स्पीड के मामले में 226.60Mbps के साथ सिंगापुर नंबर-1 है. जबकि दूसरे नंबर पर 210.73Mbps के साथ हॉन्ग कॉन्ग है.

तीसरे नंबर पर रोमानिया है जहां की ऐवरेज डाउलनोड स्पीड 193.47Mbps है. चौथे नंबर पर स्विट्ज़रलैंड है जहां की स्पीड 178.81Mbps है. पाँचवें नंबर पर थाइलैंड है जहां 175.22Mpbs है.

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment