Featured

बुढ़ापे के लिए बड़ा सहारा है मोदी सरकार की ये पेंशन योजना, नहीं रहने होगा किसी पर निर्भर

Written by Yuvraj vyas

अगर आप भी अपने बुढ़ापे में गुजारे को लेकर परेशान हैं और अपने लिए पेंशन योजना लेने का प्लान कर रहे हैं। तो ये खबर आपके लिए काम की साबित हो सकती है। यहां आपको सरकारी पेंशन योजनाओं के बारे में बता रहे हैं। प्रधान मंत्री श्रम-योगी मानधन (PMSYM) पेंशन योजना, अटल पेंशन योजना (APY) और नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) ऐसी योजानाएं हैं जो आपकी पेंशन की चिंता को खत्म कर सकती है। ये योजना प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है क्योंकि उन्हें नौकरी के बाद पेंशन नहीं मिलती। आइए जानते हैं सभी पेंशन योजनाओं के बारे में..

प्रधान मंत्री श्रम-योगी मानधन 
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना अंसगठित क्षेत्र से जुड़ा कोई भी कामगर जिसकी उम्र 40 वर्ष से कम हो और किसी भी सरकारी स्कीम का फायदा न ले रहा हो, वह इसका फायदा उठा सकता है। असंगठित क्षेत्र से जुड़े कामगर, घरों में काम करने वाले नौकर, ड्राइवर,रिक्शा चालक, निर्माण कार्य करने वाले मजदूर, कूड़ा बीनने वाले, बीड़ी बनाने का काम करने वाले कामगर इसका फायदा उठा सकते हैं।

हर महीने मिलेंगे 3 हजार रुपये
सरकार इस स्कीम को लेने वाले को 3 हजार रुपए मासिक पेंशन देगी। सरकार और पेंशन लेने वाले एक समान अमाउंट पेंशन के लिए देंगे। आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास सेविंग बैंक अकाउंट और आधार कार्ड होना जरूरी है। व्यक्ति की उम्र 18 साल से कम और 40 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

जमा करने होंगे 55 रुपए
यदि कोई 18 साल की उम्र से इस स्कीम को शुरू करता है तो उसे हर माह 55 रुपए जमा करना होंगे। वहीं जो व्यक्ति 40 साल की उम्र से इस स्कीम को शुरू करेगा उसे हर माह 200 रुपए जमा करना होंगे। 60 साल की उम्र पूरा होने के बाद आपको पेंशन मिलना शुरू हो जाएगी।

अटल पेंशन योजना 
यह योजना भी अनऑर्गेनाइज्ड सेक्टर के कामगारों के लिए है। इसके तहत 60 साल की उम्र पूरी होने पर हर महीने न्यूनतम 1000 रुपये, 2000 रुपये, 3000 रुपये, 4000 रुपये और 5000 रुपये का गारंटेड पेंशन देने का प्रावधान है। 40 साल तक की उम्र तक का व्यक्ति अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कर सकता है। 

देने होंगे 210 रुपये
मौजूदा नियमों के अनुसार अगर 18 साल की उम्र में योजना से अधिकतम 5 हजार रुपये मंथली पेंशन के लिए जुड़ते हैं तो आपको हर महीने 210 रुपये देने होंगे। अगर यही पैसा हर तीन महीने में देते हैं तो 626 रुपये और छह महीने में देने पर 1,239 रुपये देने होंगे। 

कम उम्र में जुड़कर मिलेगा ज्यादा फायदा
5 हजार पेंशन के लिए आप 35 की उम्र में जुड़ते हैं तो 25 साल तक 6 महीने में 5,323 रुपए जमा करना होगा। ऐसे में कुल निवेश 2.66 लाख रुपये होगा, जिस पर 5 हजार रुपये मंथली पेंशन मिलेगी। जबकि 18 की उम्र में जुड़ने पर कुल निवेश 1.04 लाख रुपये ही होगा। यानी एक ही पेंशन के लिए करीब 1.60 लाख रुपये ज्यादा निवेश करना होगा 

नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस)
एनपीएस एक वाल्युंटरी डिफाइन्ड कांट्रिब्यूशन रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है और इसे कोई भी वेतनभोगी ले सकता है। एनपीएस लेने वाले वाले व्यक्ति का पैसा इक्विटी या डेब्ट या दोनों में निवेश किया जाता है। एनपीएस लेने वाले व्यक्ति को 60 साल पूरा होने पर कितना पैसा पेंशन में मिलेगा यह बाजार पर निर्भर करता है।

इन्हें होगा अधिक फायदा
एनपीएस में हर महीने 4,000 रुपये जमा करने पर रिटायरमेंट के बाद 48,628 रुपये की मासिक पेंशन मिल सकती है। टैक्स एक्सपर्ट एम के गांधी ने लाइव हिन्दुस्तान को बताया कि एनपीएस में करीब 8 से 12 फीसदी तक का रिटर्न मिल जाता है। एनपीएस में जमा किए गए पैसे को निवेश करने की जिम्मेदारी पेंशन निधि विनियामक और विकास प्राधिकरण (PFRDA) के रजिस्टर्ड पेंशन फंड मैनेजर्स को दी गई है। अभी 8 फंड मैनेजर इस योजना से जुड़े हैं जो पैसे को इक्विटी, गवर्नमेंट सिक्युरिटीज और नॉन गवर्नमेंट सिक्युरिटीज जैसी योजनाएं में निवेश करते हैं।

ऐसे खुलेगा अकाउंट
सरकार ने एनपीएस योजना के लिए सरकारी और निजी बैंकों को प्वॉइंट ऑफ प्रेजेंस बनाया है। आप किसी भी नजदीकी बैंक ब्रांच में जाकर अकाउंट खुलवा सकते हैं। इसके लिए आपको बर्थ सर्टिफिकेट, 10वीं की डिग्री, एड्रेस प्रूफ और आई कार्ड की जरूरत होती है। एनपीएस के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म बैंक से मिल जाएगा।

About the author

Yuvraj vyas