Featured khet kisan

बिहार में किसान अब कैश के साथ-साथ ऑनलाइन भी कर सकेंगे खाद की खरीद का भुगतान

बिहार के किसान अब डेबिट कार्ड और पे फोन जैसे एप्लीकेशन से खाद खरीद का भुगतान कर सकेंगे। पीओएस मशीन से खाद की बिक्री तो पहले से ही हो रही है, अब भुगतान भी ऑनलाइन होगा। हालांकि किसानों को परेशानी न हो, इसके लिए पुरानी व्यवस्था भी लागू रहेगी।

nitish kumar

राज्य में खाद की कालाबाजारी पर अंकुश के लिए कृषि विभाग ने यह पहल की है। सरकार ने नई व्यवस्था करने का निर्देश सभी डीलरों को दे दिया है। साथ ही, जिला कृषि पदाधिकारियों को यह जिम्मवारी दी है कि वह व्यवस्था पर नजर रखें। अगर कोई किसान ऑनलाइन भुगतान करना चाहता है तो डीलर उसे मना नहीं कर सकेंगे।
 
नई व्यवस्था में डीलर न तो दूसरे का आधार कार्ड पीओएस मशीन में डाल सकते हैं और न ही अधिक कीमत ले पाएंगे। ऑनलाइन भुगतान से यह पता चल जाएगा कि खाद किसने खरीदी है, किसके खाते से पैसा डीलर के खाते में आया है। लिहाजा उन्हें उसी किसान का आधार कार्ड भी पीओएस मशीन में उपयोग करना होगा। अंतर आने का मतलब है कि कालाबाजारी की गई है। साथ ही, उक्त आधार कार्ड व पीओएस से खाद की मात्रा निकल जाएगी। किसान ने कितनी खाद खरीदी है और इसके बदले में कितना भुगतान किया है। ऐसे में नई व्यवस्था हो जाने पर डीलरों की मनमानी पर रोक लगेगी।
 
बड़े खरीदारों का सत्यापन करने का निर्देश 
राज्य में खाद की बिक्री में हाल में काफी गड़बडी पकड़ी गई है। मामले की जांच अभी चल रही है। बड़ी संख्या में एक ही आधार कार्ड का उपयोग कर जरूरत से ज्यादा खाद का उठाव किया गया है। साथ ही, कुछ डीलरों ने अपने भाई-भतीजे के आधार कार्ड पर भी खाद का उठाव दिखाया है। कृषि विभाग ने सभी जिलों के दस बड़े खरीदारों का सत्यापन करने का निर्देश अधिकारियों को दिया है। जांच रिपोर्ट तो आ गई है, लेकिन अभी उसका विश्लेषण विभाग में किया जा रहा है।  



About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment