Featured

नवरात्र में सबसे जरूरी यह 1 चीज, इनसे आती है सुख समृद्धि

1.मां दुर्गा की आराधना में जौ का प्रयोग अनिवार्य होता है

नवरात्रि की तैयारियां हर घर में जोर-शोर से की जा रही हैं। नवरात्रि के पहले दिन घट स्थापना की जाती है। एक छोटे से प्रतिष्ठान में बहुत महत्वपूर्ण चीजों की आवश्यकता होती है। पूजा में हर चीज का अपना अलग महत्व है। नवरात्रि पूजा में मुख्य रूप से लौंग, इलायची, कपूर और गाय के घी और आम की लकड़ी का उपयोग किया जाता है। इन सभी चीजों का अपना महत्व है। नवरात्रि की पूजा में जौ को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। देवी दुर्गा की पूजा में जौ का प्रयोग आवश्यक है। शास्त्रों में जौ की तुलना सोने से की गई है, इसलिए नवरात्रि पूजन में जौ रखने से घर में समृद्धि और खुशहाली आती है। आइए जानते हैं कि क्या है नवरात्रि और अन्य विशेष बातों का महत्व …

नवरात्रि के बीच में कैसे करें माणिक धर्म की पूजा, जानिए नियम

2. बरेली को पहले दिन बोया जाता है

नवरात्रि के पहले दिन मिट्टी के बर्तन में जौ बोया जाता है। जौ का बहुत धार्मिक महत्व है। धार्मिक महत्व के साथ, यह स्वास्थ्य पर भी अच्छा प्रभाव डालता है। प्रतिरक्षा को मजबूत करता है। जौ बाजरा के रस को पीने से रक्त शुद्ध होता है।

3. जौ की मान्यता

नवरात्रि में जौ के बारे में एक विशेष मान्यता है, कि नवरात्रि में जौ उगने से भविष्य के बारे में संकेत मिलते हैं। ऐसा माना जाता है कि 2 से 3 दिनों में जौ बोया जाता है और अगर ऐसा नहीं होता है, तो यह भविष्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। नवरात्रि में जौ बोने के लिए साफ मिट्टी का इस्तेमाल करना चाहिए।

4. बड़ली ब्रह्मा का रूप है

जौ बोने के पीछे कारण यह है कि जौ को अनाज ब्रह्मा का रूप माना जाता है और हमें अनाज का सम्मान करना चाहिए। जौ की बलि देने की परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही है। इसके अलावा पूजा पाठ में भी जौ का इस्तेमाल किया जाता है और ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से आपके घर में कभी भी पैसों की कमी नहीं होती है।

इन 4 मंत्रों का पाठ करने वाला व्यक्ति धनवान और सुखी हो जाता है

5. जौ का रंग आने वाला समय दर्शाता है

नवरात्रि के दौरान जौ बोया गया रंग शुभ और अशुभ संकेतों को भी दर्शाता है। ज्योतिषियों के अनुसार, अगर जौ का शीर्ष आधा हरा है और निचला आधा पीला है, तो यह आने वाले वर्ष को दर्शाता है। यानी इस रंग के जौ होने का मतलब है कि आने वाले साल में आधा समय अच्छा रहेगा और आधा समय परेशानियों और परेशानियों से भरा होगा। इसके अलावा, अगर जौ का रंग हरा है या सफेद हो गया है, तो इसका मतलब है कि आने वाला साल बहुत अच्छा होगा। यही नहीं, देवी भगवती की कृपा से आपके जीवन में अपार खुशियां और समृद्धि आएगी।

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment