Featured

दिल्ली: सरकारी स्कूल के जेईई मेंस में 443 और NEET में 569 छात्र सफल, सीएम केजरीवाल ने दी बधाई

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जेईई मेंस और नीट में सफलता हासिल करने पर दिल्ली सरकार के स्कूलों के छात्रों को बधाई दी है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह सभी बच्चे, दूसरे बच्चों के लिए प्रेरणादायक हैं। दिल्ली सरकार के स्कूलों में क्रांतिकारी बदलाव की वजह से जेईई मेंस 443 और नीट में 569 बच्चों ने सफलता हासिल की है।

दिल्ली सरकार के मुताबिक स्कूलों से पास 379 छात्राओं ने नीट की परीक्षा पास की है। दिल्ली सरकार के स्कूल मोलरबंद के 29 छात्रों ने नीट की परीक्षा पास की है, जबकि यमुना विहार के 24 छात्रों और नूर नगर के 23 छात्रों ने परीक्षा पास की है। जेईई मेंस की परीक्षा पास करने वाले 443 छात्रों में 53 ने जेईई एडवांस की परीक्षा में सफल हुए। पश्चिम विहार के स्कूल के 5 छात्रों ने जेईई एडवांस की परीक्षा पास की है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रतिभा पैसा का मोहताज नहीं होती है। गरीबों के बच्चों को भी अगर अच्छी शिक्षा दी जाए, अगर बोगरी की शिक्षा दी जाए, तो वे भी बहुत शानदार प्रदर्शन करके दिखा सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केमें जो सबसे कठिन परीक्षा होती है, उसको जेईई कहते हैं, संयुक्त एंट्रेंस एग्जामिनेशन के जरिए बच्चों को आईआईटी और जो सबसे बेहतरीन कंप्यूटर कॉलेजों में प्रवेश मिलता है। इस बार दिल्ली सरकार के स्कूलों के हमारे 443 बच्चों ने जेईई मेंस पास किया है। इनमें से 53 बच्चों ने जेईई एडवांस पास किया है यानी इन 53 बच्चों को सीधा आईआईटी में प्रवेश मिलता है और बाकी बच्चों का कहीं ना कहीं दूसरे कॉलेजों में दाखिला होगा। 53 बच्चों ने जेईई एडवांस किया है। एक ही स्कूल आरपीवीवी पश्चिम विहार के 5 बच्चों का आईआईटी में एडमिशन हो गया है। उस स्कूल में 68 बच्चे हैं जिनमें से 5 बच्चे का आईआईटी में सीधा एडमिशन हो गया है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले गरीबों के बच्चे अब आगे बढ़ रहे हैं। मैं हमेशा कहता था कि अगर हमें अपने देश से गरीबी दूर करनी है, तो एक पीढ़ी के अंदर सभी बच्चों को समान और अच्छी शिक्षा देकर अपने देश से गरीबी दूर कर सकते हैं। अगर हम अपने सभी बच्चों को, चाहे वह अमीर घर में पैदा होने वाला हो या गरीब के घर में पैदा होने वाला बच्चा हो, अगर हम सभी बच्चों को अच्छी शिक्षा दे दें, तो एक पीढ़ी के अंदर गरीबी दूर हो जाएगी। हमारे देश को आजाद हुए 70 साल हो गए और आज तक हम गरीबी से जूझ रहे हैं। अगर एक पीढ़ी में हमें अपने देश की गरीबी दूर करनी है, तो बच्चों को अच्छी शिक्षा देनी होगी।

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment