Featured India

गोंडा के बहाने कांग्रेस का वार- यूपी में हत्याओं का अंबार, 2 साल में 20 साधुओं की हत्या

Written by Yuvraj vyas

उत्तर प्रदेश के बागपत में एक साधु का शव मिलने के बाद गोंडा में एक पुजारी को गोली मारने को लेकर कांग्रेस ने यूपी की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने दावा किया है कि पिछले 2 वर्षों में राज्य में 20 साधुओं की हत्या की गई है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने अपने एक फेसबुक पोस्ट में यह दावा किया है। हालांकि, अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि गोंडा में राम जानकी मंदिर के पुजारी सम्राट दास की भू-माफिया द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। सत्ता और सत्ता के गठजोड़ ने यूपी को अपराध बना दिया है। अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट किया, ‘जमींदारों ने गोंडा में रामजानकी मंदिर के पुजारी सम्राट दास को गोली मार दी। सत्ता और सत्ता के गठजोड़ ने उत्तर प्रदेश को अपराध बना दिया है। सरकार की जवाबदेही शून्य है, सीएम की सहानुभूति मर चुकी है, बातूनीपन बढ़ गया है।

यह कथित राम राज्य है जहां कोई भी सुरक्षित नहीं है। यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी फेसबुक पोस्ट में यूपी सरकार पर निशाना साधा। फेसबुक पोस्ट में, उन्होंने एक नक्शा भी पोस्ट किया था जिसमें यह उल्लेख किया गया था कि राज्य में साधुओं को लक्षित किया गया है। उत्तर प्रदेश में हत्याओं की भरमार है। यह रामराज्य किस प्रकार का है? अजय कुमार लल्लू द्वारा शनिवार, 10 अक्टूबर 2020 को पोस्ट किया गया बता दें कि लंबे समय से चल रहे संपत्ति विवाद को लेकर गोंडा जिले के एक पुजारी की शनिवार रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पीड़ित सम्राट दास राम जानकी मंदिर में पुजारी हैं। उन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन रविवार तड़के इलाज के लिए लखनऊ रेफर करना पड़ा। डॉक्टरों के मुताबिक, उसकी हालत गंभीर है। चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

गोंडा से पहले उस समय हड़कंप मच गया जब बागपत में यमुना नदी में साधु का शव मिला। शव को नदी से निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। मृतक की पहचान के प्रयास जारी हैं। भगवा रंग की पोशाक में बरामद हुआ शरीर अधेड़ प्रतीत होता है। पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से उनकी मौत की वजह का पता चल सकेगा।

About the author

Yuvraj vyas