Featured

एसबीआई के एटीएम से ₹10,000 से ज्‍यादा निकाल रहे हैं? अपना मोबाइल ले जाना न भूलें

भारतीय स्‍टेट बैंक (एस‍बीआई) ने वन-टाइम पासवर्ड आधारित कैश विदड्रॉल फेसिलिटी का दायरा बढ़ा दिया है. बैंक अपने ग्राहकों को 10 हजार रुपये से ज्‍यादा की निकासी के लिए यह सुविधा देता है. अब बैंक के सभी एटीएम पर यह सेवा 24 घंटे उपलब्‍ध होगी. 18 सितंबर से इसे लागू कर दिया जाएगा. अभी अतिरिक्‍त सुरक्षा वाली यह सेवा एसबीआई के एटीएम पर सुबह आठ बजे से शाम को 8 बजे तक उपलब्‍ध रहती है.

देश के सबसे बड़े बैंक ने बताया है कि इस मुहिम का मकसद ग्राहकों को फ्रॉड से बचाना और अनधिकृत लेनदेन को कम से कम करना है. उसने कहा है, ”10 हजार रुपये या इससे अधिक रकम निकालने के लिए एसबीआई डेबिट कार्डधारकों को अब ओटीपी दर्ज करना होगा. यह ओटीपी उनके रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा. इसके साथ उन्‍हें हर बार डेबिट कार्ड पिन डालना होगा.”

बैंक ने अपने ग्राहकों को यह भी कहा है कि वे अपने सही मोबाइल नंबर बैंक के रिकॉर्ड में अपडेट कराएं. इससे बिना किसी अड़चन के ट्रांजेक्‍शन को पूरा करने में मदद मिलेगी.

यह प्रक्रिया कैसे काम करेगी?
कोई ग्राहक जब निकाली जाने वाली रकम दर्ज करेगा तो एटीएम स्‍क्रीन पर ओटीपी एंटर करने के लिए कहा जाएगा. यह ओटीपी ग्राहक के रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा. याद रखें कि ओटीपी आधारित कैश विदड्रॉल फेसिलिटी केवल एसबीआई एटीएम पर उपलब्‍ध है. नेशनल फाइनेंशियल स्विच (एनएफएस) में गैर-एसबीआई एटीएम में यह व्‍यवस्‍था नहीं की गई है. अमूमन दूसरे बैंक के एटीएम से विदड्रॉल की 10 हजार रुपये की सीमा होती है.

क्‍यों लिया गया यह फैसला?
बैंक ने बताया कि 24×7 ओटीपी बेस्‍ड कैश विदड्रॉल फेसिलिटी की शुरुआत के साथ एसबीआई ने एटीएम में सुरक्षा की परत को और मजबूत किया है. इस सुविधा के चलते एसबीआई डेबिट कार्डधारक फरेबियों के जाल में फंसने से बचेंगे. इससे अनधिकृत निकासी, कार्ड की स्किमिंग, कार्ड क्‍लोनिंग जैसी चीजों से भी बचने में मदद मिलेगी.

हाल में बैंक ने सुरक्षा संबंधी एक और सुविधा शुरू की है. इसमें एसबीआई के कस्‍टमर अगर एटीएम के जरिये बैंक बैलेंस चेक करते हैं तो उन्‍हें एसएमएस भेजा जाएगा. यह उन्‍हें ऐसी रिक्‍वेस्‍ट के लिए सूचित करने के वास्‍ते भेजा जाएगा.

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment