AutoWala Featured

आज 21 सितंबर से शुरू हो रहे हैं 4 बड़े काम, आपके लिए जानना है जरूरी

Written by Yuvraj vyas

कोरोना काल (Coronavirus attack) में 21 सितंबर की तारीख बड़ी होने वाली है. क्‍योंकि इस दिन से स्‍कूल खुलने से लेकर देश का सबसे बड़े ट्रांसपोर्टर Indian Railways 20 जोड़ी ट्रेनें शुरू करने जा रहा है. इसके साथ ही इम्‍पोर्टरों के लिए भी सरकार ने कुछ व्‍यवस्‍था लागू की है, जो उस दिन से प्रभावी होगी.

Railway train ticket cancellation, refund rules relaxed: Explained in 10 points

रेलवे चलाएगा 20 जोड़ी ट्रेन
Indian railways ने 21 सितंबर से 20 जोड़ी ट्रेनों (Train) चलाने का फैसला किया है. इनकी टिकट बुकिंग 19 सितंबर से शुरू हो गई है. इनमें से ज्‍यादातर ट्रेन बिहार (Bihar) को जोड़ने वाली हैं. रेल मिनिस्‍ट्री के मुताबिक ट्रेनों के लिए एडवांस टिकट बुकिंग होगी लेकिन इसकी मियाद 10 दिन की होगी. यानि 10 दिन का ही एडवांस टिकट मिलेगा. 

अलग से की व्‍यवस्‍था
ये व्‍यवस्‍था मौजूदा विशेष ट्रेन और श्रमिक विशेष ट्रेन (Shramik Special train) से अलग है. इन ट्रेनों में कन्‍फर्म टिकट मिलेगा. इन ‘क्लोन ट्रेनों’ में से 19 जोड़े हमसफर एक्सप्रेस की रैक चलाएंगे, जिसमें हरेक में 18 कोच होंगे, जबकि एक जोड़ी 22 कोचों के साथ यह दिल्ली-लखनऊ रूट (Delhi Lucknow route) पर चलेगी.

21 से खुल सकते हैं स्‍कूल
हेल्‍थ मिनिस्‍ट्री स्कूल-कॉलेजों को कुछ खास मानकों के साथ 21 सितंबर से खोलने के लिए तैयार है. इसके लिए कुछ गाइडलाइन जारी की गई हैं. गाइडलाइन के मुताबिक, कंटेंनमेंट जोन (containment zones) के बाहर के ही स्कूलों को खोलने की इजाजत होगी. इसके अलावा कंटेंनमेंट जोन में रहने वाले स्टूडेंट्स, टीचर्स, स्कूल स्टॉफ को स्कूल आने की अनुमति नहीं होगी.

गाइडेंस ले सकेंगे छात्र
9वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को टीचर्स से गाइडेंस लेने के लिए स्कूल जाने की इजाजत होगी जो पूरी तरह स्टूडेंट्स की मर्जी पर होगा. बच्चों को स्कूल जाने के लिए पैरेंट्स की लिखित मंजूरी जरूरी होगी.

हालांकि दिल्‍ली में बंद रहेंगे स्‍कूल
दिल्ली (Delhi) में सभी स्कूल 5 अक्टूबर तक बंद रहेंगे. दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को यह ऐलान किया. सरकार ने दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर यह फैसला किया है, हालांकि इस दौरान ऑनलाइन क्लासेज चलती रहेंगी.

आयातकों के लिए जरूरी खबर
फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने कहा है कि इम्‍पोर्टरों को मुक्त व्यापार समझौतों (FTA) के तहत सीमा शुल्क (Custom duty) की रियायती दर का फायदा लेने के लिए सोमवार से किसी भी वस्तु का आयात करने से पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि अयातित सामान जिस जगह से आयात किया जा रहा है वह निर्धारित मापदंड को पूरा कर रहा है या नहीं. 

About the author

Yuvraj vyas