Featured

अभी अभी: मोदी सरकार ने बदले नियम, 1 नवंबर से इसके बिना नहीं मिलेगा गैस सिलेंडर! जानें लें वर्ना पछताओगे

देश की तमाम तेल कंपनियां आगामी 1 नवंबर से एलपीजी सिलेंडर का नया डिलीवरी सिस्टम लागू कर रही हैं। तेल कंपनियों ने तय किया है कि अब बिना ओटीपी दिए ग्राहकों को सिलेंडर डिलीवर नहीं किया जाएगा। तेल कंपनियों ने गैस सिलेंडर से गैस चोरी होने और ब्लैक मार्केटिंग रोकने के लिए यह फैसला लिया है। सिलिंडर सही ग्राहक तक पहुंचे इसके लिए ओटीपी आधारित डिलीवरी सिस्टम को अपनाया जा रहा है।

अब ये है सिलेंडर लेने का नया तरीका: ग्राहक पहले की तरह ही सिलिंडर ऑर्डर कर सकते हैं लेकिन अब गैस एजेंसी के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा। इसके लिए तेल कंपनियों ने रियल टाइम कोड के लिए एक ऐप डेवलप किया गया है।

ये कोड डिलीवरी ब्वॉय को देना होगा। जैसे ही ग्राहक इस कोड को डिलीवरी ब्वॉय को देगा वह एप में इसकी इंट्री करेगा। इसके बाद सिलेंडर डिलीवरी के लिए अप्रूव हो जाएगा। अगर कोई ग्राहक ओटीपी बताने में असमर्थ होगा तो उसे सिलेंडर डिलीवर नहीं किया जाएगा।

वहीं अगर आपने गैस एजेंसी के साथ जो नंबर रजिस्टर्ड करवाया था वह अब आपके पास नहीं है तो इस बारे में भी चिंतित होने की जरूरत नहीं क्योंकि डिलीवरी ब्वॉय एप में आपका नया मोबाइल नंबर दर्ज कर रजिस्टर्ड कर सकेगा।

इसके बाद आप मौके पर भी ओटीपी जनरेट करवा सकेंगे। वहीं इसके बावजूद वे ग्राहक जिनका पता और मोबाइल नंबर गलत पाया जाता है तो उनके सिलेंडर की डिलीवरी को रोका जा सकता है। बता दें कि ये नया नियम पहले चरण में सिर्फ बड़े शहरों में ही लागू होगा।

About the author

Yuvraj vyas

Leave a Comment